Virasana (Hero Pose) Benefits and Steps in Hindi| Virasana Karne Ke Fayde

वीरासन योग के फ़ायदे और करने का उत्तम तरीका- Virasana (Hero Pose) benefits and steps in Hindi :-

वीरासन(Virasana) वीर+आसन दो शब्दों से मिलकर बना है जिसका अर्थ होता है वीर योद्धाओं के बैठने का आसन | प्राचीन काल मे Virasana(वीरासन), वीर योद्धाओं की विश्राम करने की position होती थी| जो की दिन भर के युद्ध(War) की थकान और तानव को दूर करने का सबसे उत्तम उपाय था| Virasana(वीरासन) को योग मे Hero pose भी कहा जाता है| आज का समय पुराने समय की तरह धनुष-बाण और तलवार से युद्ध(War) का तो नहीं है| पर आज की आधुनिक और व्यस्त दिनचर्या बहुत ही थाकानदायक और तानवपूर्ण है| जिससे मुक्ति पाने मे वीरासन(veersana) योग बहुत ही आसान और उत्तम उपाय है|

इस लेख मे हमने Virasana(Hero Pose) योग को करने की विधि,लाभ,सावधानी और ज़रूरी बातों का उल्लेख किया है|

  1. वीरासन करने के लाभ- Virasana(Hero pose) karne ke fayde
  2. वीरासन से पहले किये जाने वाले आसन- Virasana say pahle kiye jaanay walay aasana
  3. वीरासन करने का तरीका- Virasana karne ka tarika
  4. हीरो पोज़ (वीरासन) के विभिन्न प्रारूप- Virasana(Hero Pose) variations with base pose:-
  5. वीरासन करने मे सावधानियां और अंतर्विरोध- Veerasana karne mai saavdhaniya aur bachaav
  6. वीरासन के बाद किये जाने वाले आसन- Virasana karne ke baad kiye jaanay waalay aasana

वीरासन करने के फ़ायदे- Virasana(Hero pose) Benefits:-

  • जांघों, टखनों, पैरों और घुटनों के जॉइंट को मजबूत और लचीला बनाता है।
  • घुटनों और टखनों के घुमाव (Toe-in & Toe-Out) की समस्या को दूर करता है।
  • गर्भवती महिलाओं के पैरों की सुजन को दूर करने मे सहायक है।
  • Virasana से पैरों में रक्त परिसंचरण में सुधार होता है।
  • शरीर से थकान और तनाव को तुरन्त दूर करता है।
  • पाचन तंत्र को मजबूत करता है जिससे पेट से गैस और कब्ज़ की समस्या दूर होती है।
  • शरीर मे रक्त परिसंचरण का संचालन सुचारू रखता है|
  • ध्यान लगाने मे सहायक है।

वीरासन से पहले किये जाने वाले आसन- Asanas preceded by Virasana:-

Virasana(Hero pose) योग को करने से पहले अगर आप ये आसन करते है तो आप Hero Pose को बहुत ही आसानी से कर पायेंगे| इन आसनों की अधिक जानकारी के लिए इन लिंक पर क्लिक करना ना भूलें|

  1. बालासन (Child Pose)
  2. मार्जरी आसन (Cat Pose)
  3. बद्धकोणासन (Bound angle Or Cobbler’s pose)

वीरासन करने का तरीका- How To Do Virasana(Hero poses):-virasana yoga pose and benefits

  • Virasana करने के लिये सर्वप्रथम साफ़ जगह पर योगा मेट या दरी लगाकर वज्रासन की पोजीशन मे बैठ जाय|
  • अब धीरे-धीरे पैरों के घुटनों को अधिक से अधिक समीप लाने की कोशिश करेंगे| संभव हो तो दोनों घुटनों को एक दुसरे से मिलाने की कोशिश करेंगे|
  • पीछे धीरे-धीरे पैरों को जितना हो सके बहार की ओर खोलने की कोशिश करेंगे और हिप्स को जमीन पर स्पर्श कराने की कोशिश करेंगे|
  • हिस्प (कुल्हों) के नीचे पतला तकिया या तौलिया लगा सकते है अगर कुल्हे जमीन को नहीं छू पा रहे हो तो |
  • अब कमर को बिल्कुल सीधा रखते हुए दोनों हाथों को आगे जांगों पर रखना है|
  • इस पोजीशन मे 30 सेकंड तक शरीर को बिल्कुल रिलैक्स रखना है और गहरी सांस लेनी ओर छोड़नी है| और आंखे बंद करके ध्यान लगाने की कोशिश करनी है|
  • अब पुनः प्रारंभिक पोजीशन मे आने के लिये दोनों हाथों को जमीन पर रख कर सपोर्ट के साथ हिप्स को ऊपर उठाना है और पैरों को घुमाकर एक-एक करके आगे लाना है | और पैरों को रिलैक्स करना है|
  • Virasana का अभ्यास आप 3 से 5 बार कर सकते है|

हीरो पोज़ (वीरासन) के विभिन्न प्रारूप- Virasana(Hero Pose) variations with base pose:-

अभी हमने विरासन योग करने के एक प्रारूप का अभ्यास किया है| इस आसन के बहुत सारे और प्रारूप है जिनका अभ्यास हम Virasana मे परफेक्ट होने के बाद करेंगे |

  1. सुप्त-वीरासन 
  2. गों-मुखासन वीरासन
  3. पार्श्व-वीरासन 

वीरासन करने मे सावधानियां और अंतर्विरोध- Veerasana Precautions And Contraindications:-

  • अगर घुटनों मे दर्द है या घुटनों का ऑपरेशन हुआ है तो Virasana का अभ्यास नहीं करना चाहिए|
  • घुटनों पर दबाव को कम करने के लिए हिप्स(कूल्हों) के नीचे योगा ब्लाक ,पतला तकिया या तौलिया लगा सकते है|
  • अगर घुटनों मे ज्यादा ऐंठन महसूस हो रही है तो पैरों को पीछे की तरफ कम फैलाये और कुल्हों पर योगा ब्लाक का सहारा रखे|
  • Virasana योग के अभ्यास से पहले वज्रासन मे निपुण हो जाये तो बेहतर रहेगा |

वीरासन के बाद किये जाने वाले आसन- Asanas after Virasana:-

  1. दण्डासन (Staff Pose)
  2. पश्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana or Seated Forward Bend)

स्वास्थ(Health) से संबंधित आपका कोई भी सुझाव या Guest Post हो तो आप anilchandramola1986@gmail.com पर E-mail send कर सकते हैं। योग Events की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook Page पर ज़रूर संपर्क  करे|

Related Post :-

Blog Writer:- Anil Ramola

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *